जनवरी 12, 2017

टीसीएस ने राजेश गोपीनाथ को सीईओ; एनजी सुब्रमण्यम को सीओओ नियुक्त किया

मुंबई: टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेस (टीसीएस), (बीएसई: टीसीएस.बीओ, एनएसई: टीसीएस.एनएस), एक अग्रणी आईटी सेवाएं, परामर्श तथा व्यावसायिक समाधान फर्म, ने आज घोषणा की है कि राजेश गोपीनाथन को मुख्य कार्यकारी अधिकारी तथा प्रबंध निदेशक के तौर पर नियुक्त किया गया है। श्री गोपीनाथन एन चंद्रशेखरन की जगह लेंगे जिन्हें टाटा संस के अध्यक्ष पद पर 21 फरवरी, 2017 के प्रभाव से नियुक्त किया गया है।

टीसीएस द्वारा अध्यक्ष और मुख्य संचालन अधिकारी के रूप में एन गणपति सुब्रमण्यम (एनजीएस) की नियुक्ति की भी घोषणा की गई, जो वर्तमान में टीसीएस फाइनेंशियल सॉल्यूशंस के अध्यक्ष हैं, जिन्हें कंपनी के बोर्ड में एक निदेशक के रूप में भी नियुक्त किया गया है।

“टीसीएस की मूल शक्ति इसकी मजबूत नेतृत्व प्रतिभा है जो सहयोगात्मक और महत्वाकांक्षी है। मुझे पिछले 7 वर्षों से महान पेशेवरों की इस कंपनी के नेतृत्व का सौभाग्य मिला है। मैं टीसीएस के हर कर्मी से मिले सहयोग के लिए आभारी हूं। मैं अपने सहकर्मियों के सहयोग के बिना सफल नहीं हो सकता था। मुझे काफी खुशी है कि बोर्ड ने राजेश और एनजीएस को भविष्य में इस कंपनी का नेतृत्व करने के लिए चुना है। मैं टीसीएस को महान ऊंचाइयों तक ले जाने की उनकी क्षमता के प्रति गौरवान्वित हूं। मैं टीसीएस और प्रबंधन टीम के साथ लगातार संपर्क में रहने की आशा करता हूं”, टाटा संस के अध्यक्ष एन चंद्रशेखरन ने कहा।

श्री गोपीनाथन ने कहा, “मैं इस महान संगठन की अगुवाई का सम्मान और सौभाग्य प्रदान करने के लिए टीसीएस बोर्ड और चंद्रा को धन्यवाद देना चाहूंगा। चंद्रा के कार्यकाल में टीसीएस इस उद्योग के अग्रणी के रूप में उभर कर सामने आया। निश्चित रूप से यह दायित्व काफी बड़ा है। चंद्रा की लगातार निगरानी और टीसीएस टीम के सहयोग से, मैं टीसीएस की इस महान प्रगतियात्रा को बनाए रखने के प्रति पूर्णतः आश्वस्त हूं।”

एनजी सुब्रमण्यम ने कहा, “मैं इस सम्मान के लिए टीसीएस बोर्ड को हृदय से धन्यवाद देता हूं। चंद्रा ने अपने महत्वाकांक्षी नेतृत्व के जरिए एक महान मंच उपलब्ध कराया है। मैं राजेश और मेरे सभी सहकर्मियों के साथ काम करने और टीसीएस की भावी संवृद्धि में और योगदान करने की आशा करता हूं।”

श्री गोपीनाथन ने अपने पेशेवर कैरियर की शुरुआत 2001 में टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज के साथ की। उन्हें 2013 में कंपनी का मुख्य वित्तीय अधिकारी नियुक्त किया गया। उन्होंने टीसीएस को 371,000 से ज्यादा कर्मचारियों के साथ 16.5 बिलियन डॉलर की एक विश्वस्तरीय कंपनी बनाने में सहायक मुख्य भूमिका निभाई।

सीएफओ बनने से पहले, श्री गोपीनाथन व्यावसायिक वित्त के उपाध्यक्ष थे। इस भूमिका में वे कंपनी की वैयक्तिक संचालन इकाइयों के प्रबंधन के प्रति जिम्मेवार थे। उनकी जिम्मेदारियों में वित्तीय योजना तथा नियंत्रण के साथ ही राजस्व आश्वासन और मार्जिन प्रबंधन भी सम्मिलित थे।

श्री सुब्रमण्यम वर्तमान में टीसीएस की रणनैतिक व्यावसायिक इकाई टीसीएस फाइनैंशियल सॉल्यूशंस के अध्यक्ष हैं। वे पिछले 34 वर्षों से टीसीएस और भारतीय आईटी उद्योग के अंग रहे हैं और उन्हें विश्व भर के ग्राहकों को समाधान प्रदान करने में, खासतौर पर बैंकिंग और वित्तीय सेवाओं के क्षेत्र में कई प्रकार की भूमिकाओं में काम करने का अवसर मिला है।