साक्षात्कार और कहानियां

इस्पात का घोंसला
अगस्त 2017

स्टील से बनी किफायती आवास इकाइयों के लिए नवीन विचार अब घरों, आपदा पुनर्वास, शौचालयों, पोर्टेबल केबिनों और अन्य के लिए जीतने वाला फार्मूला बन गया है

‘संस्कृति का क्षय किसी भी समाज के लिए सबसे बड़ी हानि होती है’
मार्च 2017 | नम्रता नरसिम्हन

आदिवासी संस्कृति को बचाने और प्रोत्साहित करने के लिए कंपनी की उत्प्रेरक भूमिका की टाटा स्टील के चीफ सीएसआर बीरेन भूटा द्वारा व्याख्या

परंपरा को समय रहते प्रोत्साहन
जनवरी 2017 | नम्रता नरसिम्हन

झारखंड और उड़ीसा के जनजातीय समुदायों की सांस्कृतिक परंपरा तथा अभिप्रायों को पुनर्जीवित करने में टाटा स्टील की अग्रणी भूमिका

परिवर्तन का पथप्रदर्शन
दिसम्बर 2016 | गायत्री कामथ

टाटा स्टील की व्यापारिक उत्कृष्टता के प्रयास ने कम्पनी को सतत रूप से विकसित होने में मदद की है जिससे वह हमेशा ही परिवर्तनीय प्रवृत्तियों से घिरे उद्योग की दौ‌ड़ में बना रहा है।

'मोजेक परिवर्तन का एक उत्प्रेरक है'
अगस्त 2016

टाटा स्टील का विविधता और समन्वय कार्यक्रम मोजेक पूरी तरह बेहतर नतीजे प्रदर्शित कर रहा है, बकौल ऐत्रेयी एस सान्याल, एक महिला जिनके कंधे पर टाटा स्टील में दो जिम्मेवारियां हैं- मुख्य विविधता अधिकारी की, और मार्केटिंग तथा सेल्स (ब्रांडेड उत्पाद, खुदरा तथा समाधान सेवाएं) प्रमुख की भी

'हमने कलिंगनगर अभियान को संभव किया और यह हमारी संस्कृति का हिस्सा है'
जुलाई 2016 | नितिन राव

टाटा स्टील इंडिया और दक्षिण पूर्वी एशिया के एमडी टीवी नरेन्द्रन स्टील सेक्टर की समस्याओं, कंपनी के परिचालन, उड़ीसा में उसकी कलिंगनगर ग्रीनफील्ड परियोजना और स्टील उद्योग के भविष्य के बारे में बताते हैं।

फौलाद का तीर्थ
नवम्बर 2015

कहानी, जो बयां करती है कि कैसे टाटा स्टील ने अपने कलिंगनगर संयंत्र को स्थापित करने के लिए चुनौतियों के अंबार को पाटा

'कलिंगनगर में जमशेदपुर से ज्यादा विकसित होने की संभावनाएं मौजूद हैं'
नवम्बर 2015

कलिंगनगर संयंत्र की स्थापना में कई सारे उतार-चढ़ाव आए हैं, लेकिन अंततः किए गए प्रयासों से अनुकूल परिणाम निकलने जा रहे हैं, यह कहते हैं टीवी नरेंद्रन, जो टाटा स्टील के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं

स्टील का निर्माण तथा और भी बहुत कुछ
नवम्बर 2015

समुदाय के हित के लिए अपनी अटलता, अपनी क्षमताओं और अपनी वचनबद्धताओं के जरिए लंबे वर्षों तक संघर्ष करने के बाद टाटा स्टील ने कलिंगनगर में जो कुछ किया है उसपर एक नजर।

विश्वास बनाए रखना
नवम्बर 2015 | फिलिप चाको

भारत में सबसे बड़े एकल-स्थल ग्रीनफील्ड प्रोजेक्ट, कलिंगनगर संयंत्र के पूरा होने से टाटा स्टील की एक यात्रा पूर्ण हुई

'खाड़ी क्षेत्र हमारे लिए एक अहम क्षेत्रीय बाजार है'
जुलाई 2015 | क्रिस्टाबेले नोरोन्हा

टाटा स्टील के क्षेत्रीय बाजार विकास के निदेशक श्री अनिल झांजी इस साक्षात्कार में मध्यपूर्व में कंपनी के परिचालनों के बारे में और क्षेत्र के भविष्य की वृद्धि के लिए उपलब्ध अवसरों के बारे में एक आशावादी टिप्पणी करते हैं ।

स्टील से बने बंधन
जुलाई 2015 | फिलिप चाको

टाटा स्टील ने कंपनी के दीर्घ अवधि लाभों के लिए ग्राहकों के साथ अपने संबंध की प्रकृति को रूपांतरित कर डाला है

'निरंतर नवप्रवर्तन करते रहना ही मुख्य बात है'
जून 2015

त्पाद नवप्रवर्तन करना और व्यापार विस्तरण के लिए नयी दिशाओं की खोज करना, भविष्य में व्यापार वृद्धि के चालक बल होंगे, यूं कहना है टीवी नरेन्द्रन्, प्रबंध निदेशक, टाटा स्टील इन्डिया एवं साउथ ईस्ट एशिया-का

नवप्रवर्तन के जोश से प्रेरित
अप्रैल 2015 | नीतिन राव

आर्थिक मंदी के प्रभावों को परास्त करने के संघर्ष में टाटा स्टील के दो मुख्य साथी रहे हैं, नवप्रवर्तन और विपणन। प्रबंध निदेशक टीवी नरेन्द्रन् से साक्षात्कार के कुछ अंश